{NEW 2023} Cryptocurrency Kya Hoti Hai

Cryptocurrency Kya Hoti Hai :- नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका आज का हमारी इस लेख में आज हम आपके लिए लेकर आए हैं की Cryptocurrency Kya Hoti Hai आज हम आपको क्रिप्टो करेंसी के बारे में यहां पर जानकारी देंगे आप लोगों को बता दूं कि प्रत्येक देश की अपनी अपनी करेंसी होती हैं अर्थात प्रत्येक देश की अपनी एक मुद्रा होती हैं और उस करेंसी का नाम भी होता है।

जैसे अमेरिका में डॉलर भारत में रुपया आदि इन सब करेंसी को आप अपने पास रख भी सकते हैं लेकिन वर्तमान समय में डिजिटल दुनिया है, और इस डिजिटल दुनिया में एक नई करेंसी आ गई है।

जिसे cryptocurrency कहते हैं इस करेंसी को हम न तो देख सकते हैं और न ही इस करेंसी को छू सकते हैं क्योंकि यह करेंसी डिजिटल फॉर्मेट में हैं।

आज इस लेकर में हम आपको cryptocurrency के बारे में जानकारी देंगे और आपको बताएंगे कि क्रिप्टो Cryptocurrency Kya Hoti Hai, cryptocurrency के प्रकार कौन-कौन से हैं।

cryptocurrency का नाम क्या है इन सब की जानकारी आज आपको इस लेख के माध्यम से दी जाएगी तो चलिए दोस्तों बिना देरी किए इस आर्टिकल पर आगे बढ़ते हैं और क्रिप्टो करेंसी के बारे में जानकारी प्राप्त करते हैं।

Cryptocurrency Kya Hoti Hai

Cryptocurrency Kya Hoti Hai

Cryptocurrency Kya Hoti Hai :- क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल मुद्रा होती है जो ब्लॉकचेन के सिद्धांत पर कार्य करती हैं यह कंप्यूटर एल्गोरिथ्म पर बनी होती हैं इस करेंसी में क्रिप्टोग्राफी का उपयोग होता है।

इसका उपयोग चीजों की खरीदारी या सर्विस के लिए किया जाता है दोस्तों यह एक स्वतंत्र मुद्रा है जिसका कोई मालिक नहीं होता है आप लोगों को बता दूं कि सर्वप्रथम क्रिप्टोकरंसी की शुरुआत सन 2009 में हुई थी जो कि बिटकॉइन के रूप में हुई थी।

इसका निर्माण सतोशी नाकामोतो ने की थी शुरुआत में इसका इतना प्रचलन नहीं था लेकिन धीरे-धीरे इसका प्रचलन होने लगा वर्तमान समय में अनेक प्रकार की क्रिप्टो करेंसी बाजार में मौजूद हैं।

क्रिप्टो करेंसी को हम ना तो देख सकते हैं और ना ही क्रिप्टोकरंसी को छू सकते हैं यह peer to peer इलेक्ट्रॉनिक्स सिस्टम के रूप में कार्य करती हैं।

Cryptocurrency Kya Hoti Hai

Cryptocurrency के प्रकार ?

Cryptocurrency के प्रकार ?

वर्तमान समय में क्रिप्टोकरंसी के अनेक प्रकार हैं और लगभग 1000 प्रकार की क्रिप्टोकरंसी बाजार में उपलब्ध हैं लेकिन इनमें से कुछ महत्वपूर्ण क्रिप्टोकरंसी इस प्रकार है जिनका उपयोग अधिक किया जाता है क्रिप्टो करेंसी के प्रकार निम्न प्रकार हैं –

(1‌.) सियाकॉइन (siya coin)

सियाकॉइन एक ऐसी क्रिप्टोकरंसी हैं जो बाजार में उपलब्ध हैं सियाकॉइन को एससी के नाम से भी जाना जाता है वर्तमान समय में इस क्रिप्टोकरंसी की अच्छी ग्रोथ हैं और यह ग्रोथ के मामले में बिटकॉइन के बाद दूसरे स्थान पर आती हैं वर्तमान समय में इसके ग्रोथ लगातार बढ़ती जा रही हैं

(2). बिटकॉइन (Bitcoin)

बिटकॉइन तो आपने नाम सुना ही होगा यह एक ऐसी क्रिप्टोकरंसी हैं जो सबसे महंगी होती हैं वर्तमान समय में बिटकॉइन का उपयोग बड़े-बड़े सौदे करने में किया जाता है इसका उपयोग हथियारों की खरीददारी में काले धन की लेन-देन में आदि में बिटकॉइन का उपयोग किया जाता है

(3). वॉइस कॉइन (voice coin)

इसके नाम से ही पता चल जाता है कि इसका उपयोग किसमें किया जाता है वॉइस कॉइन क्रिप्टो करेंसी का उपयोग सिंगर्स के काम का मूल्य सेट करने के लिए किया जाता है इस क्रिप्टो करेंसी का महत्वपूर्ण कार्य होता है कि इसमें कलाकारों का मोनेटाइजेशन किया जाता है इस क्रिप्टोकरंसी से कलाकारों को समर्थन भी मिलता है

(4). एसवाईएस कॉइन (sys coin)

यह क्रिप्टोकरंसी बहुत अधिक तेजी से कार्य करती हैं इस क्रिप्टो करेंसी का उपयोग पैसों की लेनदेन में किया जाता है इस क्रिप्टो करेंसी को बिटकॉइन का ही रूप माना जाता है इसका महत्व पूर्ण उपयोग संपत्ति को बेचने या खरीदने में किया जाता है

(5). मॉनेरो (monero)

मॉनेरो को भी क्रिप्टोकरंसी का ही एक कॉइन माना जाता है जिसमें एक अलग प्रकार की सुरक्षा का प्रयोग किया जाता है वर्तमान समय में इसका उपयोग ब्लॉक मार्केट में किया जाता है इस क्रिप्टोकरंसी की मदद से इस स्मगलिंग भी की जाती है इस क्रिप्टो करेंसी का महत्वपूर्ण कार्य ब्लॉक मार्केटिंग करना होता है

(6) लाइट कॉइन (light coin)

यह क्रिप्टो करेंसी बाकी क्रिप्टो करेंसी से अलग प्रकार की हैं यह क्रिप्टोकरंसी सन 2011 में बनाई गई थी इस क्रिप्टोकरंसी का आविष्कार Charles lee द्वारा किया गया था इस क्रिप्टो करेंसी का ब्लॉक जनरेशन बाकी करेंसी से कम होता है इसी वजह से इस करंसी का ट्रांजैक्शन बहुत जल्द पूरा हो जाता है।

तो कुछ इस प्रकार हमने आपको क्रिप्टोकरंसी के प्रकार यहां पर बताए हैं जो आपको मार्केट में उपलब्ध होती हैं हमने आपको क्रिप्टोकरंसी के प्रकार की जानकारी भी दे दी है तो बिल्कुल आप जान गए होंगे।

Cryptocurrency के लाभ क्या है?

• अगर हम बात करें क्रिप्टो करेंसी में लेनदेन की तो वह ऑनलाइन मोड पर होती हैं
• क्रिप्टो करेंसी की सिक्योरिटी बहुत मजबूत होती हैं क्योंकि इसकी सिक्योरिटी में एक विशेष प्रकार की सुरक्षा टेक्निक का प्रयोग किया जाता है
• क्रिप्टो करेंसी पर किसी का भी नियंत्रण नहीं होता है जैसे नोटबंदी हो जाए या फिर करेंसी का मूल्य घटने जैसे खतरे की संभावना नहीं रहती हैं
• क्रिप्टोकरंसी का सबसे बड़ा लाभ यह है कि हम इसका उपयोग लेनदेन में करते हैं और इसमें लेनदेन बहुत ही सुरक्षा के साथ किया जाता है
• इस करेंसी के माध्यम से हम अपने पैसे को छुपा कर रख सकते हैं
• यह एक डिजिटल करेंसी होती हैं जिसमें धोखाधड़ी की उम्मीद बहुत कम रहती हैं

Cryptocurrency के नुकसान क्या है?

• क्रिप्टो करेंसी का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इसका कोई मुद्रण नहीं किया जा सकता है
• क्रिप्टोकरंसी का ना तो नोट छापे जा सकते हैं और ना ही इसमें बैंक चेक बुक जारी की जा सकती हैं
• इस करेंसी का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि इस करेंसी पर किसी भी सरकार का या किसी भी देश का नियंत्रण नहीं रहता है
• इसलिए इस करेंसी पर निवेश करना बहुत जोखिम भरा रहता है क्योंकि इसमें कभी उछाल रहता है तो कभी गिरावट होती हैं
• इसका उपयोग हथियारों की खरीददारी के लिए काले धन के लेनदेन के लिए ड्रग्स सप्लाई आदि के लिए किया जाता है जो बहुत जोखिम भरा होता है
• इस क्रिप्टोकरंसी को आसानी से हैक किया जा सकता है इसलिए इसमें हैक करने का खतरा भी रहता है
• इस क्रिप्टोकरंसी का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि यदि आपके गलती से कोई ट्रांजैक्शन हो गया है तो आप उसे वापस नहीं मंगा सकते हैं जिससे आपके नुकसान भी हो सकता है

Cryptocurrency कैसे काम करती हैं?

अगर आप क्रिप्टोकरंसी कैसे काम करती हैं की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए बिंदुओं को पढ़े और इसकी जानकारी प्राप्त करें

• क्रिप्टो करेंसी का महत्वपूर्ण कार्य होता है कि यह कंप्यूटर में पैसे ट्रांसफर करने का कार्य करती हैं।

• कंप्यूटर में पैसे ट्रांसफर ब्लॉकचेन सिद्धांत के आधार पर किए जाते हैं।

• अगर क्रिप्टो करेंसी के द्वारा जो भी लेनदेन करते हैं तो वह सारी लेनदेन की जानकारी ब्लॉकचेन में होती हैं इससे धोखाधड़ी का खतरा कम हो जाता है।

• इस टेक्नोलॉजी कि बहुत से लोग निगरानी भी रखते हैं और इसकी जांच भी करते हैं इसे क्रिप्टो करेंसी की माइनिंग प्रोसेस कहा जाता है।

Cryptocurrencies में invest कैसे करें?

Cryptocurrencies में invest करने के लिए  सबसे पहले आपको एक सही और अच्छे प्लेटफार्म को चुनना होगा। क्योंकि अगर आपने एक सही प्लेटफॉर्म नहीं चुना तो आपकी ज्यादा पैसे खर्च हो सकते हैं।

 दोस्तो आपको बता दे की ट्रेडिंग करने के लिये ही भारत में अभी के समय में सबसे पोपुलर Cryptocurrency प्लाट्फ़ोर्म है “Wazirx“।

इसमें investment करना और ट्रेडिंग करना बहुत ही आसान है और इसके फ़ाउंडर भी एक भारतीय ही हैं। मैंने भी इसमें investment किया है और कई वर्षों से किया है। आप भी चाहें तो इसमें अपना पैसा इन्वेस्ट कर सकते हैं।

Cryptocurrency कैसे खरीदें

क्रिप्टो करेंसी खरीदने के दो जरिए हैं, लेकिन आज सबसे आसान और लोकप्रिय तरीका इन्हें क्रिप्टो एक्सचेंज के जरिए खरीदना है। दुनिया भर में सैकड़ों क्रिप्टो करेंसी एक्सचेंज काम कर रहे हैं।

भारत की अगर बात करें तो यहां पर काम कर रहे वजीरएक्स, जेबपे, क्वाइनस्विच कुबेर, क्वाइन डीसीएक्स गो समेत कई एक्सचेंज संचालित है।

इसके अलावा क्वाइनबेस और बिनान्से जैसे अंतरराष्ट्रीय प्लेटफॉर्म भी मौजूद हैं, जहां से बिटक्वाइन, इथेरियम, टेथर और डॉजक्वाइन समेत दुनिया भर की डिजिटल मुद्राएं खरीदी जा सकती हैं। 

इसे भी Read करे :-
1). Top 5 Online earning apps in India (2022)
2). { NEW 2022} Fast Coin Loan App Se Loan Kaise le
3). [NEW 2022] Top 10 Online Earning App in Hindi 2022
4). The Most Interesting Product Review on YouTube
5). Top 10 Tips for a Successful Product Review

अंतिम शब्द :-

आज इस लेख में हमने आपको बताए हैं Cryptocurrency Kya Hoti Hai तो दोस्तों हमने आपको इसकी पूरी जानकारी यहां पर दे दी हैं अगर आपको हमारा ये लेख पसंद आया तो कमेंट में जरूर बताएं और पोस्ट को आगे जरुर शेयर करें।

(FAQ) For Cryptocurrency Kya Hoti Hai

क्रिप्टो करेंसी क्या होती हैं?

क्रिप्टो करेंसी एक मुद्रा होती हैं जो डिजिटल फॉर्मेट में होती हैं क्रिप्टो करेंसी को ना तो हम छु सकते हैं न हीं हम क्रिप्टो करेंसी को देख सकते हैं यह एक स्वतंत्र मुद्रा है जिसका कोई मालिक नहीं होता है आप लोगों को बता दूं कि सर्वप्रथम क्रिप्टोकरंसी की शुरुआत सन 2009 में हुई थी जो कि बिटकॉइन के रूप में हुई थी।

क्रिप्टो करेंसी के प्रकार कौन से हैं?

क्रिप्टोकरंसी विभिन्न प्रकार की होती हैं जैसे बिटकॉइन लाइट कॉइन, मोरेन, वॉइस कॉइन, एसवाईएस कॉइन आदि।

क्रिप्टोकरंसी के लाभ क्या है?

क्रिप्टोकरंसी से हम लेन देन कर सकते हैं क्रिप्टो करेंसी की सिक्योरिटी बहुत मजबूत होती हैं क्योंकि इसकी सिक्योरिटी में एक विशेष प्रकार की सुरक्षा टेक्निक का प्रयोग किया जाता है।

क्रिप्टो करेंसी के नुकसान क्या है?

इस क्रिप्टोकरंसी का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि यदि आपके गलती से कोई ट्रांजैक्शन हो गया है तो आप उसे वापस नहीं मंगा सकते हैं जिससे आपके नुकसान भी हो सकता है।

Cryptocurrency Kya Hoti Hai