डेटाबेस स्कीमा क्या है?

Database Schema kya hai

डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस मे data की structure को दिखाने का एक येसा ब्लप्रिंट या डिज़ाइन होता है, जो यह बताता है कि डेटाबेस में data को कैसे store किया जाना चाहिए, इसमें कौन-कौन सी tables होंगी, और इन tables के बीच कैसा relationship होना चाहिये।

Table of Contents

डेटाबेस स्कीमा क्या है?

  • डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस में Data को Structure के रूप मे Store करने का एक येसा ब्लूप्रिंट(blueprint) होता है जो Tables, Columns और Datatypes बीच के relationship को दिखाता है।
  • डेटाबेस Schema डेटाबेस की Security, management और technology को बनाए रखता है। जिससे हम डेटाबेस से data को आसानी से access कर पाते हैं, साथ ही इससे data को जल्दी से प्राप्त, Update, और error free बना सकते है।
  • डेटाबेस Schema एक तरह का data directory है जो डेटाबेस में data को store करने का तरीका बताता है।
  • Database Schema डेटाबेस के Design और execution का एक बहुत ही महत्वपूर्ण घटक होता है।

डेटाबेस स्कीमा किसे कहते हैं?

डेटाबेस में Store किया गया एक ऐसा data जो की एक structured form में टेबल और कलम के रूप में होता है जिस किसी भी यूजर के द्वारा एक्सेस करना बहुत ही आसान होता है और वह data सभी data के बीच एक relationship को दिखाता है इस प्रकार के data को Database Schema कहते हैं?

स्कीमा क्या होता है?

स्कीमा एक डेटाबेस के structure और Organization का एक येसा ब्लूप्रिंट होता है जो tables, columns, data types और उनके बीच के Realationship को दिखता है। स्कीमा डेटाबेस के डिजाइन करने का एक महत्वपूर्ण घटक होता है।

सबस्कीमा होता है?

सबस्कीमा एक डेटाबेस स्कीमा का एक भाग है। यह एक डेटाबेस में डेटा के एक विशेष उद्देश्य को दिखाता है। सबस्कीमा का उपयोग डेटाबेस को उपयोगीय और आसान बनाने के लिए किया जाता है।

डेटाबेस स्कीमा के Example

1. उपयोगकर्ता तालिका (Users Table):

  • उपयोगकर्ता आईडी (User ID)
  • उपयोगकर्ता नाम (User Name)
  • ईमेल पता (Email Address)
  • पासवर्ड (Password)
  • रजिस्ट्रेशन तिथि (Registration Date)

2. ब्लॉग पोस्ट तालिका (Blog Posts Table):

  • पोस्ट आईडी (Post ID)
  • उपयोगकर्ता आईडी (User ID)
  • शीर्षक (Title)
  • सामग्री (Content)
  • तिथि (Date)
  • टैग (Tags)

इसमें, “Users Table” और “Blog Posts Table” के बीच एक संबंध होता है जिससे साभी ब्लॉग पोस्ट को उसके लेखक से जोड़ाता है।

Database में Schema का अर्थ क्या है?

डेटाबेस में “स्कीमा” का अर्थ होता है एक संरचना (structure) जिससे डेटा को structured किया जाता है। डेटाबेस स्कीमा मे डेटा को Secure, organized, और stable रखने के लिए एक अलग तरीके से डिज़ाइन किया जाता है।

एक उदाहरण के लिये, एक ऑनलाइन बैंकिंग सिस्टम का डेटाबेस स्कीमा में “खाता” स्कीमा हो सकता है, जिसमें निम्नलिखित option हो सकते हैं:

  1. खाता_आईडी (Account_ID): खाता की पहचान के लिए एक यूनिक आईडी।
  2. उपयोगकर्ता_नाम (User_Name): खाते के धारक का नाम।
  3. शेष_राशि (Balance): खाते में उपलब्ध राशि।
  4. खाता_प्रकार (Account_Type): जैसे कि चेकिंग या सेविंग्स।

डेटाबेस स्कीमा कितने प्रकार के होते हैं?

Database Schema  के   प्रकार

डेटाबेस स्कीमा तीन प्रकार होते हैं:-

  1. Physical Database Schema (भौतिक डेटाबेस स्कीमा)
  2. Logical Database Schema (तार्किक डेटाबेस स्कीमा)
  3. View Database Schema (व्यू डेटाबेस स्कीमा)

1). फिजिकल डेटाबेस स्कीमा

फिजिकल डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस को एक स्ट्रक्चर फॉर्म मे परिभाषित करता है। इसमें टेबल के इंडेक्स और क्लस्टरिंग की जानकारी होती है और यह यूजर को यह बताता है कि स्टोरेज डिवाइस में डेटा को किस प्रकार स्टोर किया गया है।

2). लॉजिकल डेटाबेस स्कीमा

लॉजिकल डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस की संरचना को एक बड़े लेवल पर परिभाषित करता है। इसमें tables, columns, data types और उनके बीच के relationship की जानकारी होती है।

3). व्यू डेटाबेस स्कीमा

व्यू डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस का view level डिज़ाइन होता है जो की end user और database के मध्य होने वाले इंटरेक्शन के बारें में जानकारी देता है।

डेटाबेस स्कीमा का उद्देश्य क्या है?

Database Schema के निम्नलिखित उद्देश्य हैं:-

  • डेटाबेस स्कीमा का मुख्य उद्देश्य डेटाबेस में डेटा की संरचना और संगठन को परिभाषित करना है।
  • Database schema का उद्देश्य सभी टेबल के row और column की पहचान करना होता है।
  • database schema यह भी बताता है कि सभी tables और कोलम के बीच क्या relationship है।
  • डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस की संरचना को परिभाषित करता है।
  • डेटाबेस स्कीमा डेटाबेस के उपयोग को आसान बनाता है।

Schema और Table में क्या अंतर है?

Schema और Table के बीच के मुख्य अंतर निम्नलिखित हैं:

विशेषताSchemaTable
परिभाषास्कीमा डेटाबेस की संरचना और संगठन का एक ब्लूप्रिंट होता है।टेबल डेटाबेस में डेटा का एक संग्रह रो और कलम के रूप मे होता है।
सामग्रीटेबल, स्तंभों, डेटा प्रकारों और उनके बीच के संबंधों की जानकारी होती है।स्तंभों की एक सूची, प्रत्येक स्तंभ में डेटा का एक अलग प्रकार होता है।
स्तरउच्च स्तर का होता है।निम्न स्तर का होता है।
उपयोगडेटाबेस को डिज़ाइन और कार्यान्वयन करने मे।डेटाबेस में डेटा को संग्रहीत और एक्सेस करने मे।

डेटाबेस स्कीमा क्या है? से संबंधित FAQ:

डेटाबेस स्कीमा किसे कहते है?

डाटाबेस स्कीमा डेटाबेस का एक डिजाइन होता है जो पूरे डेटाबेस के बारे में जानकारी प्रदान करता है इसमें डेटा टेबल और कोलम के रूप में प्रस्तुत किया जाता है जिससे हम किसी भी डाटा को बहुत ही आसानी से एक्सेस कर पाते हैं।

डेटाबेस स्कीमा कितने प्रकार के होते हैं?

डेटाबेस स्कीमा तीन प्रकार होते हैं:-
Physical Database Schema (भौतिक डेटाबेस स्कीमा)
Logical Database Schema (तार्किक डेटाबेस स्कीमा)
View Database Schema (व्यू डेटाबेस स्कीमा)

डीबीएमएस में स्कीमा का क्या उपयोग है?

स्कीमा के उपयोग से डेटाबेस को डिजाइन और कार्यान्वित करना आसान हो जाता है। यह डेटाबेस की संगति और सटीकता सुनिश्चित करने में भी मदद करता है। इसके अलावा, स्कीमा डेटाबेस के उपयोग को आसान बनाता है।

डेटाबेस में स्कीमा का सबसे सामान्य प्रकार क्या है?

डेटाबेस में स्कीमा डिज़ाइन का दो सबसे सामान्य प्रकार स्टार और स्नोफ्लेक स्कीमा हैं।

क्या सभी डेटाबेस को स्कीमा की आवश्यकता होती है?

नहीं, कुछ छोटे प्रोजेक्ट में स्कीमा की आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन अगर प्रोजेक्ट बड़े है तो स्कीमा बनाए जाने से डेटा को संरचित और सुरक्षित रखना आसान होता है।

एक डेटाबेस स्कीमा कैसे बनाया जाता है?

डेटाबेस स्कीमा बनाने के लिए, सबसे पहले आवश्यक डेटा को टेबल में बंटा जाता है और फिर, इन टेबल के बीच रिलेशनशिप को स्थापित किया जाता है। इसमे सही डेटा प्रकारों, कीवर्डों के इस्तेमाल से डेटाबेस स्कीमा बन जाता है।

डेटाबेस स्कीमा में बदलाव कैसे किया जा सकता है?

डेटाबेस स्कीमा में बदलाव के लिए, स्कीमा डेफ़िनिशन को अपडेट करना होता है जिससे डेटाबेस स्कीमा में बदलाव हो जाता है।

डेटाबेस स्कीमा क्या है? – Database Schema in Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top