Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे

दोस्तो क्या आप जनना चहते है कि Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे तो कम्प्यूटर पर इण्टरनेट एक्सेस के लिए निम्नलिखित की आवश्यकता होती है।

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे तो कम्प्यूटर पर इण्टरनेट एक्सेस के लिए निम्नलिखित की आवश्यकता होती है। जो निम्न प्रकार के है :-

ISPs और ISP क्या होता है? (ISP and Role of ISP In Hindi.)

यह एक संस्था है, जो इण्टरनेट को एक्सेस करने के लिए सर्विस प्रदान करती है। किसी कम्प्यूटर को इण्टरनेट से जोड़ने के लिए हमें इण्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर (ISP) से सेवा लेनी होती है एवं इसके पश्चात् टेलीफोन लाइन (डायल अप) या ब्रॉडबैण्ड कनेक्शन (केबल या DSL) के माध्यम से कम्प्यूटर को इण्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर के सर्वर से जोड़ा जाता है।

भारत में इण्टरनेट सेवा का प्रारम्भ 15 अगस्त, 1995 में विदेश संचार निगम लिमिटेड द्वारा किया गया था। Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे

भारत में क्रियाशील प्रचलित इण्टरनेट सेवा प्रदाता निम्नलिखित है

  • विदेशी संचार निगम लिमिटेड (VSNL)
  • भारत संचार निगम लिमिटेड (BSNL)
  • महानगर टेलीफोन निगम लिमिटेड (MTNL)
  • मन्त्रा ऑनलाइन (Mantra Online)
  • सत्यम ऑनलाइन (Satyam Online)

इन सभी कम्पनियों के भारत के अनेक शहरों में DNS (Domain Name System) सर्वर है। DNS सर्वर एक कम्प्यूटर है, जो दूसरे कम्प्यूटर के डोमेन (Domain) नेम को IP (Internet Protocol) एड्रेस में अनुवाद (Translate) करता है। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

ISP क्या होता है? (Role of ISP In Hindi)

ISP वो कंपनी है, जो लोगों को इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करती है। ISPs के माध्यम से ही आप अपने कंप्यूटर, मोबाइल फोन और अन्य इंटरनेट सक्षम डिवाइस (IoT Devices) को इंटरनेट से कनेक्ट कर पाते है।

यूजर्स को इंटरनेट एक्सेस प्रदान करने के अलावा कई ISPs अन्य इंटरनेट सर्विसेज जैसे कि टेलीफोन और टेलीविजन सेवाएं, ईमेल सेवा, सॉफ्टवेयर पैकेज (जैसे ब्राऊजर), वेब साइट डिज़ाइन, डोमेन रेजिस्ट्रेशन, वेब होस्टिंग सेवाएं इत्यादि प्रदान करती है।

  • यह एक माध्यम के रूप में, इण्टरनेट से जुड़ने के लिए सेवाएँ प्रदान करता है।
  • ग्राहकों को निकटतम इण्टरनेट गेटवे से कनेक्ट करता है।
  • डायल-अप कनेक्शन के लिए मॉडम प्रदान करता है।
  • वर्ल्ड वाइड वेब के उपयोगकर्ता के लिए सूचना सेवा (Information service) कनेक्ट करता है।
  • ISP अपने ग्राहकों के लिए एण्टीवायरस सिस्टम एप्लाई करके वायरस को फैलने से सुरक्षा करता है।

क्या आपको पता है कि हम बिना ISP कनेक्शन के Computer में इंटरनेट को एक्सेस कर सकते है? लेकिन फिर भी काफी लोगो को इसके बारे मे पता नही होता है। इसलिये ये सवाल पूछा जाता है, क्योकी बहुत से अधिकांश लोगो को नही पता होता है कि Internet क्या है? इंटरनेट एक बहुत बडा विशाल नेटवर्क है, जो दुनियाभर में मौजूद सभी कम्प्यूटरों को आपस मे जोड़ता है।

आपका सवाल ये होगा कि क्या हम बिना ISP के इंटरनेट को एक्सेस कर सकते है? हम अपको बता दे की हाँ, बिल्कुल कर सकते है, परन्तु उसके लिये आपको खुद का एक इंटरनेट नेटवर्क बनाना होगा। आपको अपने घर से गूगल के Network तक एक cable line बिछानी होगी। एक आम व्यक्ति के लिये ये सब करना लगभग असम्भव है। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

Internet से connection जोड़ने के लिए कई विशेष telecommunications, Networking, और Routing उपकरणों की आवश्यकता होती है। अब एक आम व्यक्ति इस तरह के उपकरणों की व्यवस्था नहीं कर सकता इसलिये ISP उन्हें internet connectivity उपयोग करने के लिये अपना Network किराये (Rent) पर देता है।

विभिन्न प्रकार कीकी इण्टरनेट एक्सेस तकनीक (ISP)

ग्राहकों को कनेक्टिविटी प्रदान करने लिये ISPs कई प्रकार के इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करते है। अपनी व्यक्तिगत आवश्यकता को देखते हुये आप इंटरनेट कनेक्शन का चुनाव कर सकते है।

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे इसके लिए कुछ इण्टरनेट कनेक्शन निम्न प्रकार हैं

1:- डायल-अप कनेक्शन Dial-Up Connection

डायल-अप कनेक्शन मे internet से जुड़ने के लिए टेलीफोन लाइन का उपयोग किया जाता है। जब भी कोइ उपयोगकर्ता डायल-अप कनेक्शन का उपयूग करता है, तो मॉडम सबसे पहले इण्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर (ISP) का फोन नम्बर डायल करता है जिसे डायल-अप कॉल्स को प्राप्त करने के लिए तैयार किया गया है। आईएसपी (ISP) तब कनेक्शन स्थापित करता है, जिसमें सामान्य रूप से दस सेकेण्ड लगते हैं।

सामान्यत: ISP उन कम्पनियों के लिए प्रयोग किया जाता है, जो उपयोगकर्ताओं को इण्टरनेट कनेक्शन प्रदान करती हैं। उदाहरण के लिए, कुछ प्रसिद्ध ISP के नाम हैं— Airtel, MTNL, Vodafone आदि। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

2:- ब्रॉडबैण्ड कनेक्शन Broadband Connection

ब्रॉडबैण्ड का प्रयोग हाई स्पीड इण्टरनेट एक्सेस के लिए सामान्य रूप से होता है। यह इण्टरनेट से जुड़ने के लिए टेलीफोन लाइनों का प्रयोग करता है।

ब्रॉडबैण्ड उपयोगकर्ता को डायल-अप कनेक्शन से तीव्र गति पर इण्टरनेट से जुड़ने की सुविधा प्रदान करता है। ब्रॉडबैण्ड में विभिन्न प्रकार की हाई स्पीड संचरण तकनीकें भी सम्मिलित हैं,
Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे जोकि निम्न प्रकार हैं

(A) डिजिटल सन्स्क्राइबर लाइन (Digital Subscriber Line, DSL)

यह एक प्रचलित ब्रॉडबैण्ड कनेक्शन है, जिसमें इण्टरनेट एक्सेस डिजिटल डाटा को लोकल टेलीफोन नेटवर्क के तारों (ताँबे के) द्वारा संचरित किया जाता है। यह डायल सेवा की तरह, किन्तु उससे अधिक तेज गति से कार्य करता है। इसके लिए DSL मॉडम की आवश्यकता होती है, जिससे टेलीफोन लाइन तथा कम्प्यूटर को जोड़ा जाता है।

(B) केबल मॉडम (Cable Modem)

इसके अन्तर्गत केबल ऑपरेटर्स कोएक्सियल केबल के माध्यम से इण्टरनेट इत्यादि की सुविधाएँ भी प्रदान कर सकते हैं। इसकी ट्रांसमिशन स्पीड 1.5 Mbps या इससे भी अधिक हो सकती है। अधिकतर केबल मॉडम बाहरी (External) डिवाइस होते हैं, जिनके पास दो कनेक्शन होते हैं, एक केबल जो आउटलेट से जुड़ा होता है और अन्य कम्प्यूटर से। ये है कि Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे

(C) फाइबर ऑप्टिक (Fiber Optic)

फाइबर ऑप्टिक तकनीक वैद्युतीय संकेतों के रूप में उपस्थित डाटा को प्रकाशीय रूप में बदलकर, उस प्रकाश को पारदर्शी ग्लास फाइबर (जिसका व्यास मनुष्य के बाल के लगभग बराबर होता है) के द्वारा प्राप्तकर्ता तक भेजता है।

इसमें डाटा भेजने की गति 10-100 Mbps होती है। Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे इसके लिये

(D) ब्रॉडबैण्ड ओवर पावर लाइन (Broadband Over Power Line, BPL)

निम्न तथा मध्यम वोल्टेज के इलेक्ट्रिक पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क पर ब्रॉडबैण्ड कनेट की सर्विस को ब्रॉडबैण्ड ओवर पॉवर लाइन कहते हैं। यह उन क्षेत्रों के लिए उपयुक्त हैं, जहाँ पर पॉवर लाइन के अतिरिक्त कोई और माध्यम उपलब्ध नहीं है। जैसे ग्रामीण क्षेत्र आदि।

3:- वायरलेस कनेक्शन (Wireless Connection)

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे इसमे वायरलेस ब्रॉडबैण्ड कनेक्शन ग्राहक के स्थान और सर्विस प्रोवाइडर के बीच रेडियो लिंक का प्रयोग कर घर या व्यापार इत्यादि को इण्टरनेट से जोड़ता है। Wireless ब्रॉडबैण्ड स्थिर या परिवर्तनशील होता है।

वायरलेस ब्रॉडबैण्ड कनेक्शन मे केबल या मॉडम आदि की आवश्यकता नहीं होती है जहाँ DSL व केबल इत्यादि नहीं पहुँच सकते हैं वहां हम इसका प्रयोग किसी भी क्षेत्र में कर सकते हैं।

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे :- इण्टरनेट को हम निम्न तरीकों से Wireless Connection से जोड़ा जाता हैं।

(A) वायरलेस फिडेलिटी Wireless Fidelity, Wi-Fi

यह एक सार्वत्रिक वायरलेस तकनीक है, जिसमें रेडियो आवृत्तियों को डाटा ट्रांसफर करने में प्रयोग किया जाता है। Wi-Fi केबल या तारों के बिना ही उच्च गति से इण्टरनेट सेवा प्रदान करती है। इसका प्रयोग हम रेस्टोरेण्ट, कॉफी शॉप, होटल, एयरपोटर्स, कन्वेशन सेण्टर और सिटी पार्को इत्यादि में कर सकते हैं।

(B) हॉटस्पॉट Hotspot

यह एक स्थान है, जहाँ उपयोगकर्ता इण्टरनेट का उपयोग कर सकते हैं। आमतौर पर यह Wi-Fi का उपयोग करके, वायरलेस लोकल एरिया नेटवर्क (WLAN) के माध्यम से इण्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर से जुड़े राउटर के माध्यम से होता है।

(C) सेटेलाइट इंटरनेट एक्सेस

अगर आप ऐसे क्षेत्र में है, जहां पर इंटरनेट कनेक्शन के बेहतर विकल्प उपलब्ध नही है, तो आप सेटेलाइट इंटरनेट का उपयोग कर सकते है। ये एक वायरलेस कनेक्शन है, जिसमे सेटेलाइट से आपके कंप्यूटर तक Data भेजने के लिये इस सेटेलाइट इंटरनेट एक्सेस का उपयोग होता है।

जिसमे एक डिश एंटीना, इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर के पास, एक स्पेस में और एक आपके घर वाली छत में लगाया जाता है। इसके अलावा आपको एक केबल के माध्यम से डिश एंटीना को मॉडम से जोड़ना होता है। इस तरह के इंटरनेट कनेक्शन के लिये आप सेटेलाइट इंटरनेट प्रोवाइडर से कांटेक्ट कर सकते है। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

(C) वर्ल्डवाइड इण्टरऑपरेबिलिटी फॉर माइक्रोवेव एक्सेस

WiMax सिस्टम्स आवासीय तथा इण्टरप्राइजेज ग्राहकों को इण्टरनेट की सेवाएँ प्रदान करने के लिए बनाई गई है। यह वायरलेस मैक्स तकनीक पर आधारित है।

WiMax मुख्यतः बड़ी दूरियों व ज्यादा उपयोगकर्ता के लिए Wi-Fi की भाँति, किन्तु उससे भी ज्यादा गति से इण्टरनेट सुविधा प्रदान करने के लिए प्रयुक्त होती है। WiMax को WiMax forum ने बनाया था। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

Computer को इण्टरनेट से कनेक्ट करने के अन्य तरीके

Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे इसके अन्य तरीके भी है

लैन केबल LAN Cable

लैन केबल कम्प्यूटर नेटवर्किंग में डेटा ले जाने के लिए केबलो को सन्दर्भित करता है। लैन केबल के दो मुख्य प्रकार है – एक केबल से सीधे (Straigh through) जुड़ा होता है, जिसे सामान्यतया ईथरनेट पैच केबल (Ethernet Patch Cable) के रूप में जाना जाता है, जिसका उपयोग कम्प्यूटर को राउटर या स्विच से जोड़ने के लिए किया जाता है।

दूसरे प्रकार से क्रॉसओवर केबल (Crossover cable) है, जिसका उपयोग दो कम्प्यूटरों को बिना राउटर, स्विच या हब के सीधे कनेक्ट करने के लिए किया जाता है। ( Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे )

Straigh through के दोनों कनेक्टर एक ही तारों के मानकों का उपयोग करते हैं, या तो T5684 या T5683 जबकि क्रॉसओवर के कनेक्टर विभिन्न मानकों का उपयोग करते हैं, एक कनेक्टर T568A का उपयोग करता है और दूसरा T568B का उपयोग करता है।

यूएसबी टेथरिंग USB Tethering

टेथरिंग मूल रूप से इण्टरनेट कनेक्शन को साझा करने के लिए एक डिवाइस को दूसरे से कनेक्ट करने को सन्दर्भित करता है। जब इसे USB केबल द्वारा उपयोग किया जाता है, तो इसे USB टेथरिंग कहा जाता है।

सामान्यतः स्मार्टफोन से कम्प्यूटर पर इण्टरनेट कनेक्शन साझा (Share) करने के लिए USB केबल का ही उपयोग किया जाता है। यह आपके फोन मोबाइल डाटा को अन्य डिवाइस के साथ शेयर करने का सबसे तेज और प्रभावी तरीका है।

USB टेथरिंग को सेटअप करना Setup the USB Tethering

Android device (एण्ड्रॉयड डिवाइस) पर USB टेथरिंग सेटअप करने के लिए निम्न स्टेप्स का प्रयोग करें

  1. Settings – Network & Internet → Hotspot & Tethering को Open करें।
  2. USB tethering विकल्प पर जाएँ। Hotspot & Tethering चेतावनी प्रदर्शित होगी, जो आपको सूचित करेगी कि आपके फोन और PC के मध्य कोई भी मौजूद डाटा ट्रान्सफर जारी है या नहीं।
  3. आगे बढ़ने के लिए OK पर क्लिक करें।

संक्षेप में

ISP यानी Internet Service Provider एक कंपनी है, जो आपको इंटरनेट कनेक्टिविटी प्रदान करती है। उदाहरण के लिये Jio, Airtel, Vodafone, Idea और BSNL ये सभी भारत के प्रमुख इंटरनेट प्रोवाइडर है। इन कंपनियों ने मिलकर पूरे देश मे नेटवर्क का एक जाल बिछा रखा है, जिसकी मदद से हम इंटरनेट एक्सेस कर पाते है।

ISP के इस नेटवर्क से कनेक्ट करने के कई तरीके है, जिसमें DSL, केबल ब्रॉडबैंड, वायरलेस एवं Wi-Fi ब्रॉडबैंड, सेटेलाइट एवं मोबाइल ब्रॉडबैंड और फाइबर ऑप्टिक ब्रॉडबैंड इत्यादि शामिल है।

तो उम्मीद है, ये पोस्ट ISP क्या है? आपको ज्ञानवर्धक लगी हो। यदि पोस्ट से सम्बंधित कोई सवाल या सुझाव आपके पास हो तो कृपया नीचे कमेंट कर जरूर बताये।

मैने इस पोस्टटComputer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे इसने आपको बहुत ही आसान भाशा मे बाताया है कि आप कैसे Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे

1 thought on “Computer को Internet Access के लिए कैसे तैयार करे”

Leave a Reply