Software कैसे काम करता है?

दोस्तो Software कैसे काम करता है? इसे जानने से पहले आपको ये जानना होगा की Software प्रोग्रामो एक एसा समूह होता है, जो हमारे कंप्यूटर डिवाइस को कुछ विशिष्ट प्रकार के काम करने का निर्देश देता है।

एक computer software user को computer पर किसी भी कार्य जो करने की क्षमता प्रदान कराता हैं, Software के बिना आप अपने System में कोई भी कार्य नहीं कर सकते, हम अपने कंप्यूटर हार्डवेयर को Software की सहायता से ही Operate यानी चलाते है।

हम अपने किसी भी डिवाइस में जो भी कार्य करते है उन्हें Software के माध्यम से भी कर पाते है , जैसे की जब आप अपने कंप्यूटर में कोई भी काम करते है जैसे की MS WORD पर कोई काम करना Photoshop पर फोटो एडिट करना आदि काम Software के द्वारा ही किया जाता है।

Software कैसे काम करता है?

Software के काम करने के लिए Software सबसे पहले RAM memory में Load होता है, और फिर उसके बाद CPU में Execute होता है।

Software के CPU में Execute होते ही यह सॉफ्टवेयर डेवलपर्स द्वारा किये गये कोड को instruct करता है, ये सभी instructions एक विशिष्ट प्रकार का कार्य करने के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर के साथ इंटरैक्ट करते हैं।

सॉफ्टवेयर डेटा को प्रोसेस करने और आउटपुट देने के लिए एल्गोरिदम और नियमों के एक सेट का पालन करता है।

सॉफ्टवेयर कंप्यूटर या नेटवर्क में Save Data को स्टोर, और दुबारा प्राप्त तथा उस Data मे हेरफेर भी कर सकता है।

किसी भी सॉफ्टवेयर के काम करने का तरीका उसके बनाने वाली Technology पर निर्भर करता है।

और फिर User को सॉफ़्टवेयर के साथ इंटरैक्ट करने के लिए software को user-friendly इंटरफेस दिया जाता है, किसी भी सॉफ्टवेयर का मुख्य कार्य दिये गए डाटा को प्रोसेस करके उससे जानकारियाँ प्राप्त करना होता है।

Software क्या होता है?

सॉफ्टवेयर निर्देशों, डेटा और प्रोग्राम का एक सेट है जो कंप्यूटर को बताता है कि क्या करना है और कैसे काम करना है, तथा Software प्रोग्रामो एक एसा समूह होता है, इन्हें हम लोग अपनी आँखों से सिर्फ देख सकते है, अपने हांथो से छू नहीं सकते।

Software को Execute करने के लिए Command की आवश्यकता होती है, जो Software को किसी भी प्रकार का कार्य करने के लिए सक्षम बनाते है, कंप्यूटर प्रोग्राम को ही सॉफ्टवेर प्रोग्राम कहा जाता है।

यह कंप्यूटर सिस्टम का एक non-tangible component है जो विभिन्न कार्यों को करने, समस्याओं को हल करने और आउटपुट उत्पन्न करने के लिए बनाये जाते है।

सॉफ्टवेयर में ऑपरेटिंग सिस्टम, एप्लिकेशन सिस्टम और यूटिलिटीज सिस्टमशामिल हैं। सॉफ्टवेयर एक प्रोग्रामिंग कोड है जो प्रोसेसर, मेमोरी और स्टोरेज जैसे physical hardware components के विपरीत कंप्यूटर पर कार्य करता है।

सॉफ्टवेयर लोगों को कंप्यूटर के साथ इंटरैक्ट करने और साथ ही यह कार्यों और गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला को पूरा करने में भी सक्षम बनाता है।

Software कितने प्रकार के होते हैं?

Software निम्नलिखित तीन प्रकार के होते है:-

  • सिस्टम सॉफ्टवेयर
  • एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर
  • यूटिलिटी सॉफ्टवेयर

कार्यों के आधार पर Software को दो भागो में बंटा गया है 1). सिस्टम सॉफ्टवेयर और 2). एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर

Software कैसे बनाये जाते है?

Software को प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के द्वारा प्रोग्राम लिख कर बनाया जाता है, इस लिए यदि आप किसी भी Software को बनाना चाहते है तो आपको Computer की प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना जरूरी है|

यदि आप एक Professional Software बनाना चाहते है तो आपको एक या दो नहीं बल्की बहुत सारी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का ज्ञान होना बहुत ही जरूरी है|

एक अच्छा Software Developer बनाने के लिए आप निम्न प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जैसे Python, Java, JavaScript, HTML/CSS, C++, SQL, Ruby, PHP आदि को सीख सकते है|

FAQ:-

सॉफ्टवेर कैसे काम करता है?

Software के काम करने के लिए Software सबसे पहले RAM memory में Load होता है, और फिर उसके बाद CPU में Execute होता है। Software के CPU में Execute होते ही यह सॉफ्टवेयर डेवलपर्स द्वारा किये गये कोड को instruct करता है, ये सभी instructions एक विशिष्ट प्रकार का कार्य करने के लिए कंप्यूटर हार्डवेयर के साथ इंटरैक्ट करते हैं।

Software क्या होता है?

सॉफ्टवेयर निर्देशों, डेटा और प्रोग्राम का एक सेट है जो कंप्यूटर को बताता है कि क्या करना है और कैसे करना है, तथा Software प्रोग्रामो एक एसा समूह होता है, इन्हें हम लोग अपनी आँखों से सिर्फ देख सकते है, अपने हांथो से छू नहीं सकते।

Software कितने प्रकार के होते हैं?

1). सिस्टम सॉफ्टवेयर
2). एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर
3). यूटिलिटी सॉफ्टवेयर

सॉफ्टवेयर के जनक कौन है?

सन 1953 में रिचर्ड मैथ्यू स्टॉलमैन ने बनाया था, ये दुनिया के जाने माने मुक्त सॉफ्टवेयर डेवलपर है|

सॉफ्टवेयर का क्या कर्य होता है?

किसी भी सॉफ्टवेयर का मुख्य कार्य दिये गए डाटा को प्रोसेस करके उससे जानकारियाँ प्राप्त करना होता है।

इसे भी पढ़ें 👉 VPN कैसे काम करता हैं?

Software कैसे काम करता है?