VPN कैसे काम करता हैं? How To Work VPN in Hindi

दोस्तो VPN जिसका पूरा नाम ‘वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क’ होता है, यह एक येसा नेटवर्क होता है जो आपके डिवाइस के IP Address छुपाता है जिसका मतलब होता है कि यह आपके IP Address के लोकेशन को बदल देता है। ये तो हो गया की VPN क्या है?, अब हम आपको आगे पूरा डिटेल मे बतायेंगे की VPN कैसे काम करता हैं?

जब कभी हम लोग अपने किसी भी डिवाइस को वीपीएन नेटवर्क से कनेक्ट करते हैं तब हमारी डिवाइस एक लोकल नेटवर्क की तरह काम करने लगती है।

VPN आपके डिवाइस को पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन से प्राइवेट इंटरनेट कनेक्शन मे बदल देता है, इसके साथ साथ VPN एक येसी टेक्नोलॉजी है, जो हमे Network और Internet के बीच एक बहुत ही  सुरक्षित कनेक्शन प्रदान करता है?

Table of Contents

VPN कैसे काम करता हैं?

इंटरनेट पर बहुत सारी  ऐसी वेबसाइट है जो इंडिया और वर्ल्ड के कुछ देशों में बंद है, जिनको आप अपने पब्लिक नेटवर्क से एक्सेस नहीं कर सकते येसी वेबसाइट को एक्सेस करने के लिये आपको VPN की जरूरत पड़ती है

अब आप सोच रहे होंगे कि VPN से हम इन वेबसाइट को कैसे एक्सेस कर सकते हैं, VPN कैसे काम करता हैं? तो दोस्तों हम आपको बता दे की VPN के काम करने का तरीका बिल्कुल ही अलग होता है।

VPN एक प्राइवेट इंटरनेट कनेक्शन होता है यह आपके डिवाइस को एक प्राइवेट इंटरनेट से कनेक्ट कर देता है, जिससे आप इंटरनेट की ब्लोक वेबसाइट को बहुत ही आसानी से एक्सेस कर पयेंगे।

VPN क्या होता है?

VPN एक ऐसा नेटवर्क होता है जो हमें और हडिवाइस को एक ऐसा प्राइवेट नेटवर्क प्रदान करता है जिससे यदि हम इंटरनेट के किसी भी ब्लोक बसाइट या वर्ल्ड की किसी भी वेबसाइट पर जाते हैं तो यह हमारे डिवाइस के आईपी ऐड्रेस को बदल देता है जिससे हमारे डिवाइस को एक सुरक्षा या गोपनियता प्रदान करता है।

एक वेब सुरक्षा टेकनोलॉजी है, जो आपके इंटरनेट कनेक्शन को एक प्राइवेट, एन्क्रिप्टेड नेटवर्क मैं बदल देता है, इससे आपके डिवाइस के डेटा और किसी भी नेटवर्क की एक्सेस की जानकारी सुरक्षित रहती है।

VPN का Full Form क्या है?

VPN का Full Form “virtual Private Network” होता है?

VPN के काम करने का तरीका क्या है?

VPN आपके इंटरनेट ट्रैफ़िक को एन्क्रिप्ट करके और इसे रिमोट सर्वर के माध्यम से रूट करके, आपके डिवाइस के IP Address छिपा देता है। VPN कैसे काम करता हैं? , इसके बारे में हमने आपको कुछ सरल चरण प्रक्रिया मैं बताया हुआ है जो कि कुछ इस प्रकार है-

  • आप एक एन्क्रिप्टेड कनेक्शन के माध्यम से एक वीपीएन सर्वर से कनेक्ट होते हैं।
  • वीपीएन सर्वर एक server acts के रूप में कार्य करता है, जो आपके इंटरनेट ट्रैफ़िक को उसके destination तक पहुंचाता है।
  • destination website या सेवा आपके डिवाइस के IP Address के बजाये यह आपके VPN सर्वर के IP Address को देखती है। जिससे आपकी पहचान और स्थान छिप जाता है।
  • वीपीएन सर्वर आपको वापस भेजने से पहले ट्रैफ़िक को एन्क्रिप्ट करता है, यह सुनिश्चित करता है कि आपकी ऑनलाइन गतिविधियाँ निजी और सुरक्षित रहें।
  • वीपीएन एक remote server के लिए एक सुरक्षित और एन्क्रिप्टेड कनेक्शन बनाता है, जिससे आप गोपनीयता और सुरक्षा के साथ इंटरनेट का उपयोग करते हैं।

VPN का उपयोग कैसे करें?

यदि आप अपने मोबाइल में VPN का उपयोग करना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित स्टेप को फॉलो करना होगा:-

  • सबसे पहले आपको किसी एक VPN एप्लीकेशन को play Store या App Store से करे।
  • VPN App को इनस्टॉल करने के बाद इसे Open करें।
  • अब अपनी मनचाही Location को Set करें।
  • Location Set करने के बाद आप Connect वाले Option पर क्लिक करके VPN को कनेक्ट करें।

VPN क्या काम करता है?

VPN का मुख्य कार्य होता है की यह लोगो की Personal जानकारी को लोगो और Hacker से गोपनीय रखना है। यह आपके Device मे public network का उपयोग करके private network से कनेक्ट करके सुरक्षा प्रदान करता है।

आपके सभी ऑनलाइन डाटा को बनाना और फिर इस डाटा को रिमोट सर्वर के माध्यम से रूट करता है। यह आपके पर्सनल डाटा को एन्क्रिप्टेड कर देता है, और फिर Server के माध्यम से एक स्थान से दूसरे स्थान तक भेजता है|

यह आपके डाटा को हैकर से बचाता है जो आपके Data को संभावित रूप से चोरी करना चाहते हैं, वैसे तो हम लोग ज्यादातर VPN का उपयोग geo-restricted content (जिस तक हम आसानी से पहुंच नहीं सकते) उस तक पहुंचने के लिए करते हैं।

VPN को कैसे कनेक्ट करते है?

नीचे हम आपको Computer और मोबाइल दोनो डिवाइस में VPN Connect करने की विधि के बारे में बताया है-

1) मोबाइल में VPN कनेक्ट कैसे करें?

यदि आप अपने मोबाइल में बिना किसी ऐप के उपयोग के VPN का उपयोग करना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित स्टेप को फॉलो करना होगा:-

  • Step 1:- अपने फ़ोन की सेटिंग मे जाये।
  • Step 2:- नेटवर्क और इंटरनेट वीपीएनके ऑप्शन पर क्लिक करें, अगर ये ऑप्शन आपके फोन मे ना हो तो Direct सर्च बॉक्स में VPN सर्च करले।
  • Step 3:- अब आपको VPN को ऐड करना होगा जिसके लिए आपको एक सर्वर एड्रेस चाहिए होगा।
  • Step 4:- सर्वर एड्रेस के लिये आप गूगल पर VPNBOOK.com या vpngate.net करे।
  • Step 5:- सर्वर एड्रेस को कॉपी करके फिर से सेटिंग में जाकर पोस्ट कर दो।
  • Step 6:- अपना उयूजरनेम और पासवर्ड सेट करे।
  • Step 7:- अब Add Option पर क्लिक करके Vpn कनेक्ट करें।

3) Computer में VPN कनेक्ट कैसे करें?

  • Step 1:- सबसे पहले Opera Developer Software को download करे।
  • Step 2:- अब App को Open करे ऊपर  Side में, Menu के Option पर Click करे अब फिर Setting पर Click करे।
  • Step 3:- अब आपके समने Privacy And Security का option आयेगा उस पर Click करने के बाद आपको VPN का Option नज़र आएगा, अब Enable VPN पर Tick करे।
  • Step 4:- अब आपके Opera Browser में VPN Activate हो जाएगा।

सुपर वीपीएन क्या है?

सुपर VPN भी एक VPN की ही सर्विस है जिसका उपयोग आप लोग बाकी सभी VPN की तरह ही करते है, इसके उपयोग से आप अपने इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर से आप अपना IP Address लोकेशन को छुपा सकते हो।

इसकी सहायता से भी आप देश में ब्लॉक्ड किसी भी वेबसाइट को एक्सेस कर सकते हैं या फिर ब्लॉक्ड किसी भी गेम या एप को भी बहुत ही आसानी से चला सकते है।

VPN उपयोग करने के फायदे

  • इंटरनेट पर बहुत सारे VPN फ्री में मिल जाते हैं।
  • फ्री VPN मे कोई भी पेमेंट करने की जरूरत पड़ती है।
  • VPN से आप किसी भी ब्लॉक वेबसाइट को ओपन कर सकते है।
  • VPN से आप अपने डेटा को हैक होने से बचा सकते हैं।
  • VPN में हमे फुल बैंडविथ मिल जाती है जिससे आप हाई स्पीड से डाटा का उपयोग कर सकते है।

VPN उपयोग करने के नुकसान

  • इंटरनेट पर सभी VPN फ्री में नहीं होते हैं।
  • हमें कुछ VPN के लिए पेमेंट भी करना होता है।
  • यदि आप Free VPN का उपयोग करते है तो इसमें बहुत ज्यादा Ads आते रहते है।
  • फ्री VPN मे हमे लिमिटेड बैंडविड्थ मिलती है।
  • High Confidential डाटा के लिए फ्री VPN का उपयोग नही किया जा सकता है।

Computer के लिए Best Windows VPN Software कौन-कौन से हैं?

  • CyberGhost
  • Finch VPN
  • Hotspot Shield
  • OpenVPN
  • Windsribe
  • Surf Easy
  • Tunnel Bear
  • ZPN connect
  • Zenmate
  • Total VPN

Mobile के लिये Best VPN कौन-कौन से हैं?

  • NordVPN
  • ExpressVPN
  • Proton VPN
  • CyberGhost VPN
  • Turbo VPN – Secure VPN Proxy
  • TunnelBear
  • Private Internet Access VPN
  • Windscribe VPN
  • Surfshark VPN – Private & Safe
  • Fast VPN
  • Secure VPN-Safer Internet
  • Atlas
  • FastestVPN – Best Privacy Tool
  • Best VPN Proxy AppVPN
  • Private & Secure VPN
  • Thunder VPN – Fast, Safe VPN
  • PureVPN
  • Ultimate VPN
  • VPN Unlimited – Privacy Master
  • hide.me VPN
  • SuperVPN Fast VPN Client
  • X-VPN – Best VPN Proxy master
  • Norton Secure VPN
  • Free VPN by Free VPN .org
  • Turbo VPN Lite – VPN Proxy
  • VPN – Master Better Net VPN
  • SetupVPN
  • DroidVPN – Easy Android VPN
  • Avira Phantom VPN
  • Mozilla VPN
  • VPN 2023 Fast VPN Proxy Master
  • NET VPN Fast Secure VPN Proxy
  • VPNSecure – Secure VPN
  • ArgoVPN
  • Speedify – Live Streaming VPN
  • Android Security VPN
  • SecVPN
  • Best Free VPN
  • PrivateVPN
  • Hola
  • Urban VPN
  • Best VPN Betternet
  • VPN.lat
  • VyprVPN
  • NET VPN Fast Secure VPN Proxy
  • VPN Owl
  • Tomato VPN | VPN Proxy
  • GreenNet
  • Trusted VPN

क्या हमे Free VPN का इस्तेमाल करना चाहिए?

वैसे तो हमे कोशिश करनी चाहिए की हमे अपने फोन या कंप्यूटर में Free VPN का उपयोग बिल्कुल नहीं करना चाहिए क्योकी Free VPN  विश्वशनीय नहीं होते हैं, फ्री VPN आपके डेटा को पूरी तरह से सिक्योर नहीं करते हैं, इसके साथ साथ यह आपके डाटा को किसी तीसरे व्यक्ति के साथ भी साझा करते हैं। इसलिए हमें Free VPN का इस्तेमाल बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें 👉 Mobile Hack होने से कैसे बचाये?
इसे भी पढ़ें 👉 Computer को Virus से कैसे बचाये
इसे भी पढ़ें 👉 Web Security क्या है?
इसे भी पढ़ें 👉 Proxy Server कैसे काम करता है?
इसे भी पढ़ें 👉 Computer Virus क्या है?
इसे भी पढ़ें 👉 Mobile Hack होने से कैसे बचाये?
इसे भी पढ़ें 👉 Hacking कितने प्रकार के होते हैं,

FAQ :-

VPN कैसे काम करता हैं?

VPN आपके डिवाइस को पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन से प्राइवेट इंटरनेट कनेक्शन मे बदल देता है, इसके साथ साथ VPN एक येसी टेक्नोलॉजी है, जो हमे Network और Internet के बीच एक बहुत ही  सुरक्षित कनेक्शन प्रदान करता है।

VPN का क्या मतलब होता है?

VPN का पूरा नाम वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क होता है जिसका मतलब होता है, हमारे डिवाइस को एक प्राइवेट नेटवर्क प्रदान करता है और साथ ही यह हमे ऑनलाइन गोपनीयता के साथ और सुरक्षा प्रदान करता है।

दुनिया का सबसे अच्छा वीपीएन कौन सा है?

दुनिया का सबसे अच्छा वीपीएन ExpressVPN है, यह सबसे भरोसेमंद और सबसे अच्छा वीपीएन ऐप है। इसके 94 देशों में 160 सर्वर है जो फ़ास्ट स्पीड और अनलिमिटेड बैंडविड्थ के साथ कोई भी ब्लॉक वेबसाइट और ऐप्स को ओपन कर सकते हैं। 

क्या वीपीएन भारत में उपयोग करने के लिए सुरक्षित है?

अभी तो भारत में वीपीएन उपयोग करना सुरक्षित है, लेकिन अगे चल कर क्या होगा सरकार इसे बंद करती है या नहीं इसका तो हमे भी पता नही है।

VPN से हम क्या कर सकते हैं?

VPN से हम डिवाइस के Location और Identity को छुपा सकते है, यानि कि VPN  आपके द्वारा इसकी पूरी जानकारी को गोपनीय रखता है? और इसके साथ साथ आप आपने Data को Hack होने से बचाता सकते है।

VPN का पूरा नाम क्या है?

VPN पूरा नाम ‘वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क’ होता है, जो आपके डिवाइस को पब्लिक इंटरनेट कनेक्शन से प्राइवेट इंटरनेट कनेक्शन मे बदल देता है।

VPN का उपयोग करना सही है या ग़लत?

VPN का उपयोग करना बिलकुल ही सही है, क्योकी इससे आपकी ऑनलाइन identity को छुपा सकते हो साथ ही किसी अन्य देश की वेबसाइड को एक्सेप्ट कर सकते हो।

VPN कैसे काम करता हैं? How To Work VPN in Hindi