हैकिंग से कैसे बचे?

Hacking se kaise bache

आपको बता दे की कोई कितना भी प्रयास करले लेकिन कोई भी System पूरी तरह से Hacking से नही बचाया जा सकता है।

लेकिन हा हमने नीचे आपको जो भी तरीके बताये है की Hacking से कैसे बचे? इनका पालन करके आप आपने Device को आसानी से Hack होने से काफी हद तक बचा सकते है।

Table of Contents

हैकिंग से कैसे बचे?

हैकिंग से बचने के लिये आपको नीचे बताये गये निम्न्लिखित तरीको का उपयोग कर सकते है:

  1. Strong और Unique Passwords का उपयोग करें।
  2. Two-Factor Authentication (2FA) का उपयोग करें।
  3. अपने सॉफ़्टवेयर को अपडेट रखें।
  4. एंटीवायरस और एंटी-मैलवेयर सॉफ़्टवेयर इंस्टॉल करें।
  5. फ़ायरवॉल का उपयोग करें।
  6. ईमेल और लिंक से सावधान रहें।
  7. सावधान रहें कि आप किस पर क्लिक कर रहे है।
  8. अपने वाई-फाई को सुरक्षित करें।
  9. सोशल मीडिया से सावधान रहें।
  10. अपने डेटा का नियमित रूप से बैकअप लें।
  11. नये खतरों से सावधान रहें।

1). Strong और Unique Passwords का उपयोग करें।

आपको अपने सभी Account के लिये Strong और Unique Passwords का उपयोग करना चाहिये अब आपके पासवर्ड मे कम से कम 16 characters लंबा होना चाहिए जिसमे बड़े और छोटे अक्षरों, संख्याओं और प्रतीक आदि शामिल होना चाहिए।

2). Two-Factor Authentication (2FA) का उपयोग करें।

अधिक सुरक्षा के लिये आपको अपने account पर Strong और Unique Passwords के अलावा Two-Factor Authentication (2FA) का उपयोग भी करना चाहोये। इसमे आपके Mobile Number पर भी एक code भेजा जाता है जिसको डालने के बाद ही आपका account Login होगा।

3). अपने सॉफ़्टवेयर को अपडेट रखें।

आप अपने ऑपरेटिंग सिस्टम, वेब ब्राउज़र, एंटीवायरस और एप्लिकेशन आदि सभी सॉफ़्टवेयर अपडेट करें, क्योकी जब आप अपने सॉफ़्टवेयर को अपडेट करते है तो अक्सर उसमे security patches शामिल होते है जो आपको हैकर्स से बचाने में आपकी मदद करते हैं।

4). एंटीवायरस और एंटी-मैलवेयर सॉफ़्टवेयर इंस्टॉल करें।

आपको अपने Device मे एंटीवायरस और एंटी-मैलवेयर आदि सॉफ़्टवेयर का उपयोग करना चाहिये क्योकी ये सॉफ़्टवेयर आपके system की malicious programs को ढूंढ कर उसे हटा देता है।

5). फ़ायरवॉल का उपयोग करें।

जब आप आपके कंप्यूटर मे फ़ायरवॉल का उपयोग करते है तो यह आपके Computer को unauthorized access से बचाता है।

6). ईमेल और लिंक से सावधान रहें।

आपको किसी भी अनजाने ईमेल और लिंक से बचना चाहिये विशेषकर येसे ईमेल से जो अटैचमेंट लिंक वाले ईमेल हो unknown sources आए लिंक पर क्लिक करने से आपके कंप्यूटर मे फ़िशिंग वेबसाइट या मैलवेयर डाउनलोड हो सकता है।

7). सावधान रहें कि आप किस पर क्लिक कर रहे है।

जब तक आप यह ना जानले की यह सही है तब तक तब तक आपको ईमेल या वेबसाइटों पर मौजूद किसी भी लिंक पर क्लिक न करें। हैकर्स अक्सर फ़िशिंग ईमेल भेजते हैं जिनमें ऐसे लिंक होते हैं जो देखने मे असली लगते है लेकिन होते नकली है एक बार जब आप नकली लिंक या वेबसाइट पर पहुंच जाते हैं, तो हैकर्स आपकी निजी जानकारी चुरा लेते हैं।

8). अपने वाई-फाई को सुरक्षित करें।

अपने घरेलू वाई-फाई नेटवर्क के लिए मजबूत एन्क्रिप्शन (WPA2 या WPA3) का उपयोग करें और डिफ़ॉल्ट राउटर लॉगिन क्रेडेंशियल को बद दे।

9). सोशल मीडिया से सावधान रहें।

सोशल मीडिया पर आपके द्वारा share की जाने वाली जानकारी को लेकर सतर्क रहें। जब आप अपना पता, फ़ोन नंबर, या छुट्टियों की योजना आदि पोस्ट करते है तो इस जानकारी के द्वारा आप हैकर्स द्वारा ब्लैकमेल किया जा सकते है।

10). अपने डेटा का नियमित रूप से बैकअप लें।

अपने डेटा का नियमित रूप से बैकअप लेते रहे और उसे ऑफ़लाइन या सुरक्षित क्लाउड स्टोरेज पर Save रखे क्योकी जब आपका कंप्यूटर हैक हो जायेगा, तो आपको खुशी होगी कि आपके पास अपने डेटा का बैकअप है और आप अपने डेटा को दुबारा से restore कर पायेंगे।

11). नये खतरों से सावधान रहें।

मार्केट में जो भी नये हैकिंग के खतरे आ रहे है उनसे आप हमेशा अपडेट रहें ताकि आप अपनी सुरक्षा के लिए आगे का कदम उठा सकें।

Hacking से बचने के उपाय? – Ways to avoid Hacking in Hindi

यहां पर हमने आपको हैकिंग से बचने के लिये कुछ अन्य अतिरिक्त Tips बताई हुई हैं जो आपको हैकिंग से बचने में आपकी सहायता कर सकती हैं:

  1. साइबर सिक्योरिटी के बारे में स्वयं को Educate करें।
  2. अपनी Physical Devices को Secure रखे।
  3. अपने खातों की नियमित रूप से जांच करे।
  4. Public Wi-Fi से कनेक्ट करते समय VPN का उपयोग करें।
  5. उन offers पर संदेह करें जो true होने के लिए बहुत अच्छे लगते हैं।

1). साइबर सिक्योरिटी के बारे में स्वयं को Educate करें।

साइबर सिक्योरिटी के बारे में स्वयं को Educate करें क्योकी आप जितना ज्यादा साइबर सुरक्षा के बारे में जानेंगे, आप खुद को हैकरों से बचाने के लिए उतने ही बेहतर ढंग कदम उठा पाएंगे।
साइबर सिक्योरिटी के बारे मे अधिक जानने के लिये आप Internet पर Search कर सकते है?

2). अपनी Physical Devices को Secure रखे।

अपनी Physical Devices को Secure रखे आप अपनी Devices ko सार्वजनिक स्थानों पर लावारिस छोड़ने से बचें और unauthorized access को रोकने के लिए स्क्रीन लॉक या पासवर्ड का उपयोग करें।

3). अपने खातों की नियमित रूप से जांच करे।

आपको अपने खातों की नियमित रूप से जांच करते रहे यदि आपको कुछ कोई भी unauthorized activity महसूस हो या दिखाई दे तो आपको तुरंत अपने खातों का पासवर्ड बदल दे।

4). Public Wi-Fi से कनेक्ट करते समय VPN का उपयोग करें।

Public Wi-Fi नेटवर्क का उपयोग करने से बचें, यदि आप public Wi-Fi का उपयोग करते है तो आपको VPN का उपयोग करना चाहिये क्योंकि इससे हैकर्स आपकी जांकारी चुरा सकते हैं।

5). उन offers पर संदेह करें जो true होने के लिए बहुत अच्छे लगते हैं।

यदि आपको कोई ईमेल या टेक्स्ट संदेश से offers प्राप्त होता है, तो उस पर संदेह करे जिस परआपको मुफ्त छुट्टी या बड़ी रकम देने का वादा करते है तो उससे बचे क्योकी यह आपके लिये एक Scam हो सकता है।

हैकिंग कितने प्रकार के होते हैं?

  1. सिस्टम हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर आपके सिस्टम को हैक करके उसके Data को encrypt कर देता है, जिससे आप अपने System के किसी भी Data को Access नही कर पायेंगे।
  2. मोबाइल हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर आपके मोबाइल  को हैक करके उसका सारा Data और personal जांकारी को चुरा लेता है।
  3. कंप्यूटर हैकिंग: इसमे मे हैकर आपके कंप्यूटर को हैक करके उसके Data को encrypt कर देता है, जिससे आपका कंप्यूटर slow काम करने लगेगा।
  4. नेटवर्क हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर आपके सभी नेटवर्क को hack करके उसे बर्बाद कर देता है जिससे आपको communication process मे दिक्कत आ जाती है।
  5. पासवर्ड हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर आपके सभी System और application के पासवर्ड को hack करके उनका access ले लेता है।
  6. वेबसाइट हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर वेबसाइट के माध्यम से आपके device मे virus को डाल देते है।
  7. ईमेल हैकिंग: इस प्रकार की हैकिंग मे हैकर ईमेल के माध्यम से आपको hacking Link या Files भेजते है।
  8. वायरलेस हैकिंग: Wifi Wireless Hacking का एक उदाहरण हो सकता है, जैसे ही आप किसी भी Public wifi से Connect होते है। हैकर आपके device को Hack करके आपकी सभी जनकारी को चुरा लेते है।

हैकिंग से क्या क्या किया जा सकता है?

हैकिंग के माध्यम से हैकर्स आपके कंप्यूटर या फोन मे वायरस फैला सकते है, आपके बैंक खाते से पैसे ट्रांसफर करके किसी और जगह भेज साकते है, और आपके साथ ऑनलाइन अवांछित गतिविधियां कर सकते है।

इसके अलावा और भी बहुत सारी येसी अवांछित गतिविधियां है जो हैकिंग के माध्यम किये जाते है जिनके बारे मे आप internet पर Search करके पढ़ सकते हैं।

Hacking से से सम्बंधित (FAQs)

हैकिंग से कैसे बचे?

Hacking से बचने के लिये आप इन निम्न्लिखित तरीको का उपयोग कर सकते है:
1). Strong और Unique Passwords का उपयोग करें।
2). Two-Factor Authentication (2FA) का उपयोग करें।
3). अपने सॉफ़्टवेयर को अपडेट रखें।
4). एंटीवायरस और एंटी-मैलवेयर सॉफ़्टवेयर इंस्टॉल करें।
5). फ़ायरवॉल का उपयोग करें।

हैकिंग कितने प्रकार के होते हैं?

हैकिंग निम्नलिखित प्रकार के होते हैं:
1). सिस्टम हैकिंग (System Hacking).
2). मोबाइल हैकिंग (Mobile Hacking)
3). कंप्यूटर हैकिंग (Computer Hacking).
4). नेटवर्क हैकिंग (Network Hacking).
5). पासवर्ड हैकिंग (Password Hacking).
6). वेबसाइट हैकिंग (Website Hacking).
7). ईमेल हैकिंग (Email Hacking).
8). वायरलेस हैकिंग (Wireless Hacking).

क्या हैकिंग अच्छी है?

हैकिंग एक गलत काम है क्योंकि यह गैरकानूनी है और ऐसा करने पर आपको को जेल भी जाना बढ़ सकता है।

Scroll to Top